छत्तीसगढ़राज्य

तबादला रुकवाने में लगे पटवारी

राजनांदगांव
पटवारियों के खिलाफ लगातार लेनदेन के बाद कार्य करने की शिकायतें मिलने के बाद जिले के प्रभारी मंत्री मो. अकबर ने राजस्व अधिकारियों की बैठक लेते हुए इस पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी और ऐसे पटवारियों की सूची बनाकर तत्काल उनको वहां से हटाने को कहा था।

उल्लेखनीय है कि तहसील एवं राजनांदगांव जिले में विगत लंबे अरसों से पदस्थ पटवारियों के द्वारा सामान्य कामकाज के लिए लोगों से रुपये लिए ला रहे थे। बिना लेनदेन के ये पटवारी कोई भी कार्य नहीं कर रहे थे, इसकी शिकायत उच्च स्तर पर होने के बाद पिछले दिनों जिले के प्रभारी मंत्री मो. अकबर ने जिला कार्यालय कलेक्टोरेट सभागृह में अधिकारियों की बैठक ली थी और पटवारियों के खिलाफ मिल रही शिकायतों पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। उन्होंने कहा था कि पटवारियों की इन हरकतों से शासन और प्रशासन दोनों की बदनामी हो रही है ऐसे में जो पटवारी विगत तीन वर्षों से एक ही स्थान और एक ही हल्के में कार्यरत है उनका तत्काल प्रभाव से दूसरे जिले और ग्रामों में तबादला किया जाए।

प्रभारी मंत्री के इस आदेश के बाद जिला कलेक्टर ने ऐसे पटवारियों की फेहरिस्त तैयार की और उनके तबादला आदेश निकालने शुरू कर दिए। बताया जा रहा है कि तबादला आदेश निकलने के बाद पटवारी फिर से इस आदेश को रुकवाने की जुगत में लग गए है। स्थांतरित किए गए पटवारी अपनी पदस्थापना और स्थानांतरण आदेश की सूची में से नाम हटवाने के लिए अनेक बहाने तलाश रहे है ताकि ऐनकेन प्रकरेण में उनका तबादला रुक सकें। इससे साफ जाहिर होता है कि प्रभारी मंत्री के आदेशों की अवहेलना करने से शासकीय अधिकारी भी बाज नहीं आ रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button