राष्ट्रीय

डोनाल्ड ट्रंप ने फिर लगाया फर्जीवाड़े का आरोप, लीगल वोट गिने जाने से मेरी होगी जीत: ट्रंप  

अमेरिका
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव का नतीजा अबतक नहीं निकल पाया है. इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और चुनाव में फर्जीवाड़े का आरोप लगाया. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर सिर्फ लीगल वोटों को गिना जाए तो मैं आसानी से जीत जाऊंगा, लेकिन फर्जी वोटों को गिना जा रहा है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हमें लगता है कि हम ये चुनाव आसानी से जीत जाएंगे. हमारे पास बहुत सबूत हैं, हम कोर्ट में इस लड़ाई को ले जाएंगे. मुझे लगता है कि अबतक अमेरिकी इतिहास में इतनी बड़ी वोटों की चोरी कभी नहीं हुई. राज्यों में वोटिंग को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कई राज्यों में मैंने जीत का दावा किया है और कुछ में जो बाइडेन ने, लेकिन अंत में अब कोर्ट ही तय करेगा कि कौन जीता. लेकिन जिस तरह से घोटाला हो रहा है, वो इस देश में नहीं होना चाहिए. 
 
अमेरिकी राष्ट्रपति बोले कि अगर सिर्फ लीगल वोटों की गिनती होगी, तो मैं जीत जाऊंगा. लेकिन अगर फर्जी वोट गिने जाएंगे तो वो चुनाव को चुरा लेंगे. मैंने कई राज्यों में जीत दर्ज कर ली है और ये आंकड़े ऐतिहासिक हैं. आपको बता दें कि ऐसा दूसरी बार हुआ है जब डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में ही प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर चुनाव में फर्जीवाड़े का आरोप लगाया है. डोनाल्ड ट्रंप के इन बयानों को अमेरिकी मीडिया में काफी आलोचना हो रही है. 

जो बाइडेन और कमला हैरिस ने दिया जवाब
एक ओर डोनाल्ड ट्रंप लगातार मेल इन वोटों को लेकर आरोप लगा रहे हैं लेकिन दूसरी ओर जो बाइडेन और कमला हैरिस इन्हीं वोटों पर विश्वास जताए हुए हैं. दोनों की ओर से ट्वीट किया गया है कि हमने लंबे वक्त से इस लड़ाई में भरोसा जताया है, लोगों ने इलेक्शन डे से पहले ही मतदान किया. लेकिन अब डोनाल्ड ट्रंप वोटों की गिनती ही रोकना चाहते हैं, हमें फाइटबैक करना होगा. इसके अलावा अब डेमोक्रेट्स की ओर से कानूनी लड़ाई के लिए फंडिंग भी मांगी जा रही है.  गौरतलब है कि अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए तीन नवंबर को वोट डाले गए थे, लेकिन तब से अबतक वोटों की गिनती चल रही है. अमेरिका में ऐसा कम ही होता है कि इलेक्शन डे वाले दिन ही विजेता का पता ना चले. हालांकि, अभी ये काउंटिंग की प्रक्रिया लंबी चल सकती है, क्योंकि कुछ राज्यों ने कहा है कि उनके पास अभी मेल-इन वोट आ रहे हैं और गिनती 12 नवंबर तक ही पूरी हो पाएगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button