मध्य प्रदेशराज्य

जनहित की योजनाओं को बंद करके कमलनाथ ने जनता के साथ किया धोखा : नरेंद्रसिंह तोमर

भिंड/मुरैना
महीनों की कमलनाथ सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए कोई काम नहीं किया। जबकि 15 वर्षों में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने गॉवं, गरीब, किसान, मजदूर सहित हर वर्ग के लिए लोककल्याणकारी योजनाएं शुरू करके जनता को राहत पहुंचाने का कार्य किया था। कमलनाथ सरकार ने शिवराज सरकार की जनहित वाली योजनाओं को बंद कर प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया है। यह बात केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर ने भिंड जिले की गोहद विधानसभा के ग्राम चंदोखर एवं मुरैना जिले की अंबाह विधानसभा के गढ़िया, रायपुर व बरबाई में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में सभाओं को संबोधित करते हुए कही। तोमर ने कहा कि यह उपचुनाव साधारण चुनाव नहीं है, बल्कि ये प्रदेश को बचाने का चुनाव है।

चंबल एक्सप्रेस वे को कमलनाथ सरकार ने ठंडे बस्ते में डाला
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना, संबल योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना सहित गरीबों के हित में शिवराज सरकार द्वारा लागू की गई तमाम योजनाओं को बंद कर दिया था। अब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उन्हें दोबारा शुरू किया है। तोमर ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने गरीबों, मजदूरों, किसानों के साथ वादाखिलाफी कर उन्हें ठगने का काम किया। किसानों का कर्जा माफ नहीं किया, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता नहीं दिया। उन्होंने कहा कि चंबल एक्सप्रेस वे की शुरुआत शिवराज सरकार ने की थी, जिसे कमलनाथ की सरकार ने ठंडे बस्ते में डाल दिया और केंद्र को जमीन के अधिग्रहण का प्रस्ताव ही नहीं भेजा। शिवराज सरकार ने आते ही जमीन का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा और केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जी ने इस योजना के लिए 8.30 हजार करोड़ की मंजूरी भी दे दी है। अगले एक माह में इसके लिए भूमिपूजन कर दिया जाएगा।

भाजपा की सरकारें करती हैं विकास
तोमर ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार ने गांव गांव में सड़कों का जाल बिछाने का कार्य किया। वहीं,  हमारे ऊर्जावान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए देश, देश की जनता और देश का विकास ही सब कुछ है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार अच्छे काम करती है तो कांग्रेस के लोग विरोध करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने ऐसा कानून बनाया है, जिसके तहत किसान अपनी फसलों को देश में कहीं भी बेच सकते हैं। प्रदेश में शिवराज सरकार ने गेहूं और धान पर बोनस भी देने का काम किया जो कि कांग्रेस सरकार नहीं दे पाई थी। तोमर ने कहा कि 3 नवंबर को होने वाले चुनावी समर में हम सब की भी जिम्मेदारी बनती है कि हम संगठित होकर विकास और प्रगति के लिए भाजपा प्रत्याशियों को जिताएं, शिवराज सिंह जी की सरकार को मजबूत बनाएं और मोदी जी के हाथ मजबूत करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button