छत्तीसगढ़राज्य

जनता की समस्याओं को धैर्यपूर्वक सुनें तथा उनका समाधान करने हरसंभव प्रयास करें – उइके

रायपुर
राज्यपाल अनुसुईया उइके से राजभवन में राज्य प्रशासनिक सेवा से हाल ही में भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत अधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की। राज्यपाल ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत होने पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी।

राज्यपाल ने कहा कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी का पद बड़ी जिम्मेदारी और संवेदनशीलता का होता है। गरीब और जरूरतमंद व्यक्तियों को उनसे बहुत अपेक्षाएं होती है। वे जब आपके पास आते हैं तो यह मानकर चलते हैं कि उनकी समस्याओं का समाधान होगा। यदि आम जनता आपके पास अपनी समस्याएं लेकर आते हैं तो उनसे जरूर मिलें और उनकी बात को धैर्यपूर्वक सुनें तथा उनकी समस्याओं के समाधान का हरसंभव प्रयास करें। राज्यपाल ने कहा कि शासन द्वारा संचालित योजनाओं की न केवल जानकारी दें, बल्कि जरूरतमंद लोगों को उन योजनाओं से लाभान्वित करने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पांचवी अनुसूची में सम्मिलित राज्य है। यहां के अधिकांश क्षेत्र पांचवी अनुसूची के अन्तर्गत आते हैं। उनके प्रावधानों की जानकारी रखें और उन्हें शासन की मंशा के अनुरूप लाभ दिलाएं। इस अवसर पर राज्यपाल ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत अधिकारियों को प्रतीक चिन्ह और कॉफी टेबल बुक प्रदान किया।

इस अवसर पर मुख्य सचिव की उप सचिव श्रीमती जयश्री जैन, उच्च शिक्षा संचालनालय की अपर संचालक श्रीमती चंदन त्रिपाठी, कोरबा की अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका ऋषि महोबिया,, जिला पंचायत बलौदाबाजार की सीईओ डॉ. फरिहा आलम, राजभवन की उप सचिव श्रीमती रोक्तिमा यादव, राज्य निर्वाचन आयोग के उप सचिव दीपक कुमार अग्रवाल और जिला पंचायत, बलरामपुर की सीईओ श्रीमती तुलिका प्रजापति उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button