खेल

चेन्नै आईपीएल इतिहास में पहली बार 10 विकेट से हारी

शारजाह
इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के शारजाह में मुंबई इंडियंस ने चेन्नै सुपर किंग्स को एकतरफा मैच में 10 विकेट से हरा दिया। यह पहला मौका है जब आईपीएल में चेन्नै सुपर किंग्स की टीम 10 विकेट से हारी है। चेन्नै सुपर किंग्स ने पावरप्ले में ही 5 विकेट गंवाने के बाद सैम करन की हाफ सेंचुरी की बदौलत 20 ओवरों में 9 विकेट पर 114 रन बनाए थे। जवाब में मुंबई ने ईशान किशन (नाबाद 68) और क्विंटन डि कॉक (नाबाद 46) की तूफानी बैटिंग के दम 12.2 ओवर में 116 रन बनाते हुए बेहद आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया। इस जीत के साथ ही मुंबई इंडियंस की टीम पॉइंट टेबल में टॉप पर पहुंच गई है। दूसरी ओर, चेन्नै सुपर किंग्स हार के साथ प्लेऑफ की दौड़ से लगभग बाहर हो गई है। 

ईशान और डि कॉक की तूफानी बैटिंग
115 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस ने बेजोड़ शुरुआत की। रोहित की गैरमौजूदगी में ओपनिंग करने उतरे ईशान किशन और क्विंटन डि कॉक शुरू से आक्रामक मूड में दिखे। पहला ओवर करने आए दीपक चाहर को डि कॉक ने दो चौके जड़े तो दूसरे ओवर में जोस हेजलवुड को किशन ने दो चौके ठोके। 5वें ओवर में दीपक को ईशान ने दो चौके और एक छक्का जड़ते हुए मुंबई को 50 रनों के पार पहुंचा दिया।

किशन ने जड़ी तूफानी फिफ्टी
ईशान ने 28 गेंदों में रविंद्र जडेजा को छक्का जड़ते हुए तूफानी हाफ सेंचुरी पूरी की। इन दोनों ने टीम को कोई झटका नहीं लगने दिया और 46 गेंद रहते मैच को मुंबई के पाले में डाल दिया। यह पहला मौका है, जबकि चेन्नै की टीम ने कोई मैच 10 विकेट से गंवाया है। ईशान ने 37 गेंदों में 6 चौके और 5 छक्के जड़े, जबकि डि कॉक ने 37 गेंदें में 5 चौके और दो छक्के उड़ाए।

सैम करन ने बचाई CSK की लाज
चेन्नै सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस ने आईपीएल के सबसे कम स्कोर का रेकॉर्ड अपने नाम करने की तरफ मोड़ दिया था, लेकिन सैम करन ने अहम समय पर अर्धशतकीय पारी खेल चेन्नै की लाज बचा ली। पावर प्ले में ही अपने छह विकेट खो चुकी चेन्नै को करन ने 47 गेंदों पर 52 रन बना 20 ओवरों में नौ विकेट पर 114 रनों के स्कोर तक पहुंचा दिया। करन को ट्रेंट बोल्ट ने पारी की आखिरी गेंद पर बोल्ड किया। वह टीम के 9वें विकेट के तौर पर आउट हुए। अपनी पारी में करन ने चार चौके और दो छक्के लगाए।

यूं गिरे एक के बाद एक विकेट
आईपीएल-13 चेन्नै का अच्छा नहीं जा रहा है। मुंबई के खिलाफ चेन्नै ने जिस तरह की शुरुआत की उसकी अपेक्षा किसी को नहीं थी। बोल्ट ने चेन्नै के पतन की शुरुआत की और पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर ऋतुराज गायकवाड को आउट कर चेन्नै को पहला झटका दिया। फिर जसप्रीत बुमराह ने अपना कमाल दिखाया और दूसरे ओवर की चौथी और पांचवीं गेंद पर अंबाती रायुडू (2), एन. जगदीशन (0) को आउट कर चेन्नै की हालत खराब कर दी।

धोनी भी नहीं कर सके कमाल
कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर आ चुके थे और फाफ डु प्लेसिस (1) भी मैदान पर थे, लेकिन तीसरा ओवर लेकर आए बोल्ट ने डु प्लेसिस को भी सस्ते में पविलियन भेज दिया। चेन्नै का स्कोर तीन रनों पर चार विकेट था। धोनी के साथ अब थे रविंद्र जडेजा। बोल्ट ने जडेजा को सात रनों के निजी स्कोर से आगे नहीं जाने दिया। कप्तान ने कुछ शॉट्स लगाए। राहुल चहर की गेंद पर उन्होंने छक्का मारा, लेकिन अगली गेंद पर गेंद उनके बल्ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक के हाथों में गई। धोनी ने 16 रन बनाए।

सैम करन और ताहिर की रेकॉर्ड साझेदारी
चहर ने अपने भाई दीपक चहर का भी शिकार किया। दीपक खाता तक नहीं खोल पाए। इसके बाद करन ने शार्दुल ठाकुर (11) के साथ मिलकर 28 रन जोड़े। और फिर इमरान ताहिर (नाबाद 13) के साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए 43 रन जोड़ टीम को 100 के पार पहुंचा तीन बार की विजेता की लाज बचाई। आईपीएल में अब करन और ताहिर के नाम नौवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रेकॉर्ड जुड़ गया है। मुबई के लिए बोल्ट ने चार ओवर के कोटे में एक मेडन सहित 18 रन देकर चार विकेट लिए। आईपीएल में यह बोल्ट का अब तक की सबसे अच्छी गेंदबाजी है। बुमराह और चहर ने दो-दो विकेट लिए। नाथन कुल्टर नाइल ने एक विकेट लिया।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close