राष्ट्रीय

कोविड-19: कोरोना वायरस की जांच के मामले में भारत दुनिया में दूसरे स्थान पर

नई दिल्ली
भारत कोविड-19 महामारी की जांच के लिहाज से 11.96 करोड़ जांच करके दुनिया में दूसरे नंबर पर है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मंगलवार को सुबह तक की गई कुल जांच में से 49 प्रतिशत रैपिड एंटीजन जांच हैं जबकि 46 प्रतिशत आरटी-पीसीआर जांच है। मंत्रालय ने कहा कि आज सुबह तक पांच प्रतिशत जांच सीबीएनएएटी और ट्रूनेट का इस्तेमाल करते हुए की गईं।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत में इतनी बड़ी संख्या में की गई जांच के बावजूद संक्रमण दर घट रही है और यह 7.18 प्रतिशत रह गई है। उन्होंने कहा कि पिछले हफ्ते में 24 घंटे की संक्रमण दर 4.2 प्रतिशत थी। भूषण ने कहा, भारत में अब तक 11.96 करोड़ कोविड-19 जांच की गई हैं जो दुनिया में दूसरी सबसे ज्यादा जांच है। पिछले हफ्ते रोजाना औसतन 11,18,072 नमूनों की जांच की गई।

उन्होंने कहा, अगर हम पिछले दो हफ्तों के आंकड़ों को लें तो हम दुनिया के और किसी भी देश के मुकाबले ज्यादा जांच कर रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या दिल्ली सामुदायिक प्रसार के चरण में पहुंच गई है और क्या त्योहारों के दौरान मामले और बढ़ेंगे, भूषण ने कहा कि अगर त्योहारों या शादियों के समय लोग इकट्ठा होते हैं और कोविड-19 के मद्देनजर समुचित व्यवहार नहीं करते हैं तो, संक्रमण के प्रसार का जोखिम रहता है।

उन्होंने कहा, सामुदायिक प्रसार के बारे में चर्चा अक्सर अपर्याप्त जानकारी और तथ्यों पर की जाती है। इसे जबकि विज्ञान और तथ्यों पर आधारित होना चाहिए। एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए भूषण ने कहा कि भारत में मंगलवार तक कोविड-19 का पता लगाने के लिये हुई जांच में से 46 प्रतिशत आरटी-पीसीआर जांच थीं, 49 प्रतिशत रैपिड एंटीजन जांच थीं और पांच प्रतिशत जांच सीबीएनएएटी और ट्रूनेट का इस्तेमाल करते हुए की गईं।

भूषण ने कहा कि भारत में बीते सात दिनों के दौरान प्रति 10 लाख की आबादी पर औसतन तीन मौत कोविड-19 से दर्ज की गईं जबकि दुनिया का औसत प्रति 10 लाख की आबादी पर सात कोविड-19 मौत का है। उन्होंने कहा, भारत में बीते सात दिनों के दौरान प्रति 10 लाख की आबादी पर 235 नए मामले सामने आए जबकि प्रति 10 लाख की आबादी पर नए मामलों का वैश्विक औसत 482 का है।

भूषण ने कहा, भारत में कोविड-19 से ठीक होने वालों की संख्या 79 लाख के पार पहुंच गई है जो दुनिया में सर्वाधिक है। औसतन 51,476 लोग पिछले हफ्ते प्रतिदिन ठीक हुए। भूषण ने यह भी कहा कि बीते 24 घंटों के दौरान कोविड-19 से हुई मौतों में से 62 फीसदी मामले महाराष्ट्र, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, केरल और पंजाब से सामने आए। सचिव ने कहा कि कोविड-19 के नए मामलों में से 54 प्रतिशत मामले दिल्ली, पश्चिम बंगाल, केरल और महाराष्ट्र से सामने आए हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button