खेल

कैच छोड़ने और मौके गंवाने से टूर्नामेंट नहीं जीत सकते: वॉर्नर

 
अबु धाबी 

 सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के कप्तान डेविड वॉर्नर को भले ही आईपीएल में अपने अभियान पर गर्व है, लेकिन दिल्ली कैपिटल्स (DC) के खिलाफ दूसरे क्वालिफायर में टीम की फील्डिंग को देखकर उन्होंने स्वीकार किया कि इस तरह के लचर प्रदर्शन से वे टूर्नामेंट जीतने के हकदार नहीं थे.

वॉर्नर ने सनराइजर्स की 17 रनों से हार के बाद कहा, ‘अगर आप कैच छोड़ते हो और मौके गंवाते हो तो फिर जीत हासिल नहीं कर सकते. मुझे लगता है कि गेंदबाजी और बल्लेबाजी में खराब शुरुआत के बाद हमने वापसी की, लेकिन फील्डिंग में हमारा रवैया हार का कारण बना.’ दिल्ली के दोनों सलामी बल्लेबाजों मार्कस स्टोइनिस और शिखर धवन के कैच छूटे, जबकि कुछ आसान रन भी दिए गए. दिल्ली ने इसका फायदा उठाकर तीन विकेट पर 189 रन बनाए. इसके जवाब में सनराइजर्स 8 विकेट पर 172 रन ही बना पाया.

स्टोइनिस का कैच तीसरे ओवर में छूटा, जब वह महज तीन रन पर थे. वह 27 गेंदों में 38 रन बनाए. यह कैच छूटना महंगा साबित हुआ. 14वें ओवर में श्रेयस अय्यर का कैच छूटा, हालांकि वह अगली ही गेंद पर आउट हो गए थे. धवन का कैच 19वें ओवर में छूटा. वह दो गेंदों के बाद 78 रन बनाकर आउट हुए.

वॉर्नर ने हालांकि आईपीएल में अपने अभियान पर संतोष व्यक्त किया और कहा कि तीसरे स्थान पर रहना उनकी टीम के लिए गर्व की बात है क्योंकि किसी ने भी यह अनुमान नहीं लगाया था कि उनकी टीम यहां तक पहुंचेगी.

उन्होंने कहा, ‘पहली बात तो यह है कि हमें शुरू में किसी ने दावेदार नहीं बताया था. हर कोई मुंबई इंडियंस, दिल्ली और आरसीबी की बात कर रहा था. मुझे अपने अभियान पर वास्तव में गर्व है. चोटें भी मसला रही, लेकिन आपको इसके साथ आगे बढ़ना होता है.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button