अंतरराष्ट्रीय

कमला हैरिस ने रचा इतिहास, बनीं देश की पहली अश्वेत-महिला उपराष्ट्रपति

वॉशिंगटन
भारतीय मूल की मां और जमैकन पिता की बेटी कमला हैरिस (Kamala Harris) ने आखिरकार इतिहास रच दिया है। पेंसिल्वेनिया में जीत के साथ ही जो बाइडेन (Joe Biden) अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन गए हैं। इसके साथ ही कमला हैरिस देश की पहली अफ्रीकी-अमेरिकी और एशियाई-अमेरिकी उपराष्ट्रपति बन गई हैं।

आगे हैं बहुत काम
CNN के प्रोजेक्शन के मुताबिक बाइडेन ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को मात दे दी है। इसके बाद हैरिस ने ट्वीट किया- ' ये चुनाव जो बाइडेन या मुझसे बड़े हैं। यह अमेरिका की आत्मा के बारे में हैं और इसके लिए लड़ने की हमारी इच्छाशक्ति के बारे में हैं। हमारे आगे बहुत सारा काम है। शुरू करते हैं।' आपको बता दें कि हैरिस अमेरिका की राजनीति में एक जाना-पहचाना नाम रही हैं और भारत के साथ उनका गहरा कनेक्शन है।

भारत के कनेक्शन
1964 में कैलिफोर्निया में जन्मीं हैरिस की मां भारतीय मूल की डॉक्टर थीं और उनके पिता जमैका के इकॉनमिस्ट। कमला की मां श्यामला गोपालन हमेशा से यह चाहती थीं कि उनके बच्चे अपनी भारतीय जड़ों से जुड़े रहें। तमिल मूल की भारतीय-अमेरिकन श्यामला एक जानी-मानी कैंसर रिसर्चर और ऐक्टिविस्ट थीं। श्यामला ने अपना ग्रैजुएशन भी दिल्ली यूनिवर्सिटी से किया था।

रच चुकी हैं इतिहास
हैरिस दूसरी अश्वेत और पहली दक्षिण एशियाई-अमेरिकी महिला थीं जो अमेरिकी कांग्रेस के अपर चेंबर तक पहुंची थीं। सीनेटर के तौर पर वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ मुखर रही हैं। हालांकि, विदेश नीति पर उन्होंने ट्रंप का समर्थन भी किया है। चुनावी कैंपेन में ट्रंप और रिपब्लिकन खेमे ने हैरिस पर खूब हमला किया है।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button