छत्तीसगढ़राज्य

कपड़े के मास्क की समुचित साफ-सफाई जरूरी, साबुन और गर्म पानी से धोकर धूप में सुखाएं

रायपुर। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए कपड़े के मास्क के उपयोग के बाद इसकी समुचित सफाई जरूरी है। साबुन या वाशिंग पावडर, गर्म पानी और कीटाणुनाशक से इसे अच्छे से धोकर तथा धूप में सूखा कर ही दोबारा इस्तेमाल करना चाहिए। जो व्यक्ति सर्जिकल मास्क का उपयोग करते हैं, वे ध्यान रखें कि यह चार-पांच घंटे तक ही प्रभावी रहता है।

कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में मास्क का इस्तेमाल सबसे सरल और प्रभावी है। इसके साथ ही हाथों की स्वच्छता के लिए बार-बार साबुन व पानी से हाथ धोना या सेनिटाइजर का प्रयोग करना चाहिए। सड़कों, गलियों, दुकानों, बाजारों, कार्यालयों और सार्वजनिक स्थानों पर हम सभी को शारीरिक दूरी के नियमों का पालन अनिवार्यत: करना चाहिए। कोरोना संक्रमण के किसी भी तरह के लक्षण दिखाई देने पर नजदीकी जांच केन्द्र में जाकर जांच के लिए सैंपल देने में देरी नहीं करना चाहिए।

वैज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बंद जगहों और बंद कमरों में समूह में नहीं रहना चाहिए। इसके स्थान पर खुली जगह में रहकर गतिविधियां करनी चाहिए। संक्रमित व्यक्ति के बंद स्थान पर रहने से संक्रमण की संभावना बढ़ जाती हैं। संक्रमित व्यक्ति के उस स्थान से जाने के बाद भी वायरस वातावरण में रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button