अंतरराष्ट्रीय

कतर में महिला यात्रियों के प्राइवेट पार्ट की जांच

दोहा
कतर के दोहा एयरपोर्ट पर महिला यात्रियों के प्राइवेट पार्ट की आक्रामक तरीके से जांच से विवाद पैदा हो गया है। ऑस्‍ट्रेलिया की विदेश मंत्री ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है। ऑस्‍ट्रेलिया के विदेश मंत्री ने कहा कि 10 यात्री विमानों की महिला यात्रियों की जबरन सघन जांच की गई। यही नहीं स‍िडनी जाने वाले कतर एयरवेज के विमान से महिला यात्रियों को उतरने के लिए मजबूर किया गया और उनके प्राइवेट पार्ट की सघन जांच की गई।

दरअसल, कतर एयरपोर्ट के बाथरूम से एक लावारिस नवजात बच्‍चा म‍िला था, इसके बाद दोहा एयरपोर्ट के अधिकारियों ने महिलाओं को जबरन प्राइवेट पार्ट की जांच करवाने के लिए मजबूर किया। ऑस्‍ट्रेलिया की विदेश मंत्री मरिसे पायने ने सीनेट में सुनवाई के दौरान कहा कि कुल 10 एयरक्राफ्ट की महिला यात्रियों को तलाशी का शिकार होना पड़ा जो पूरी तरह से परेशान करने वाला और आक्रामक है।

ऑस्‍ट्रेलिया और कतर के बीच में राजनयिक विवाद
ऑ‍स्‍ट्रेलियाई विदेश मंत्री ने कहा कि दो अक्‍टूबर को सिडनी जाने वाली 18 महिलाएं और फ्रांसीसी समेत अन्‍य विदेशी महिला यात्री इस जांच का शिकार हुईं। उन्‍होंने यह नहीं बताया कि अन्‍य महिला यात्री कहां जा रही थीं। इस घटना के बाद अब ऑस्‍ट्रेलिया और कतर के बीच में राजनयिक विवाद पैदा हो गया है। ऑस्‍ट्रेलिया ने इस घटना पर विरोध दर्ज कराया है।

ऑस्‍ट्रेलिया के अधिकारी अन्‍य देशों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं जहां महिलाएं इस दुर्व्‍यवहार का शिकार हुई हैं। ऑस्‍ट्रेल‍िया की कोशिश संयुक्‍त रूप से इस मुद्दे को कतर के साथ उठाने की है। ऑस्‍ट्रेलियाई विदेश मंत्री ने कहा कि वह रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रही हैं। इससे पहले दोहा के हमद एयरपोर्ट ने इस बात की पुष्टि की थी कि यह घटना हुई है। हालांकि उसने विस्‍तृत विवरण देने से मना कर दिया। एयरपोर्ट ने अपील की है कि बच्‍चे की मां आगे आए और उसे ले जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button