मध्य प्रदेशराज्य

एक भ्रष्टाचारी सरकार को हमने धूल चटाई है: ज्योतिरादित्य सिंधिया

शिवपुरी/पोहरी
कांग्रेस सरकार में चालू तो सिर्फ भ्रष्टाचारए दलाली और कमलनाथ रहे, बाकी तो उन्होंने सब कुछ बंद कर दिया था, हमारी संबल योजना को बंद कर दिया। बेटियों की कन्यादान की राशि को बंद कर दिया। बुजुर्गों की तीर्थदर्शन योजना को बंद कर दिया। किसानों को 0 प्रतिशत ब्याज पर ऋण देना बंद कर दिया, भांजे.भांजियों को लैपटॉप देना बंद कर दिया। ये कमलनाथ नहीं कपटनाथ हैं, जो प्रदेश की जनता के साथ छल.कपट करते रहे। अब वे हमें नालायकए नंगा.भूखा और भी न जाने क्या.क्या कह रहे हैं। ये बातें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कही, वह शनिवार को पोहरी विधानसभा के बैराढ़ में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सभाओं को संबोधित किया। दोनों नेताओं ने पोहरी विधानसभा के बैराड में भाजपा प्रत्याशी सुरेश रांठखेड़ा के जनसमर्थन में विशाल आमसभा को संबोधित किया और भाजपा प्रत्याशी के लिए वोट मांगें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ प्रदेश में 15 माह तक मुख्यमंत्री रहे। इस दौरान उन्होंने वल्लभ भवन को दलालों की मंडी बना दिया था। उनके शासनकाल में भ्रष्टाचार की जड़ेें जम गईं थी। उन्होंने कहा कि कमलनाथ के पास उनके मंत्री.विधायकों के लिए तो समय नहीं रहता थाए लेकिन उनके पास दलालों की फौज जमी रहती थी। उन्होंने अधिकारियों के पदों की बोली लगाई और उनसे पैसा कमाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ के पास विकास कार्यों के लिए पैसा नहीं था। मंत्री.विधायक विकास कार्यों के लिए जाते थे तो वे कहते थे कि पैसा नहीं हैए खजाना खाली है। मैं कहता हूं कि क्या हम औरंगजेब हैं, जो हमने खजाना लूट लिया। कमलनाथ के पास विकास कराने की नीयत नहीं थी। वे विकास विरोधी थे, उन्होंने तो केवल तबादला उद्योग चलाकर कांग्रेस के दलालों को रोजगार दिया था।

सभा को संबोधित करते हुए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि हमने एक भ्रष्टाचारी सरकार को धूल चटाकर सत्ता से ही हटा दिया। कमलनाथ ने सिंधिया परिवार को चुनौती दी थी। मुझसे कहा था कि आ जाओ स?क परए तो मैंने कमलनाथ सरकार को ही सड़क पर लाकर खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने मेरी मालिक मेरी जनता की तरफ आंख उठाई थीए अब उसका नतीजा भी देख लिया। उन्होंने कहा कि मेरा जनता से राजनीतिक जु?ाव नहीं हैए मेरा तो इनसे दिल का रिश्ता है और मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे 18 साल से आपकी सेवा करने का सौभाग्य प्राप्त हो रहा है।

श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ये चुनाव जात.पांतए धर्म.अधर्म का नहींए बल्कि यह तो प्रदेश के विकास का चुनाव है। जनता के सम्मान और स्वाभिमान का चुनाव है। इस चुनाव में कमलनाथ.कांग्रेस को बताना है कि उन्होंने क्या.क्या गलतियां की थीं। कमलनाथ ने प्रदेश के गरीबए किसानों को 2 लाख रूपए कर्जमाफी का झांसा दिया था और मुझसे भी फर्जी प्रमाण.पत्र बंटवा दिए। कर्जमाफी का वचन पूरा नहीं किया। युवाओं को 4 हजार रूपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देने का भी वादा किया थाए लेकिन वह भी नहीं दिया। जब कमलनाथ ने जनता को दिए वचन पूरे नहीं किए तो मैंने कहा कि वचन पत्र में दिए गए वचनों को पूरा करेंए नही ंतो मुझे सड़कों पर आना प?ेगा। उन्होंने कहा कि दंभी और गुरूर में चूर कमलनाथ ने कहा कि आ जाओ स?क पर तो आ गया। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश के विकास के लिए शिव.ज्योति एक्सप्रेस चल पड़ी है और यह एक्सप्रेस प्रदेश के विकास में कोई कमी नहीं आने देगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button