राजनीति

उम्मीदवारों का टोटा: इस बार मैदान में 179 निर्दलीय उम्मीदवार

भोपाल
प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में हो रहे उपचुनावों में राजनीतिक दलों के पास उम्मीदवारों का टोटा पड़ गया है। सत्रह ऐसे राजनीतिक दल इस बार चुनाव मैदान में है जिन्हें एक से अधिक उम्मीदवार नहीं मिल पाए है। वहीं निर्दलीय उम्मीदवार इस बार राजनीतिक दलों पर भारी है सभी राजनीतिक दल मिलकर उतने उम्मीदवार मैदान में नहीं उतार पाए जितने इस बार निर्दलीय मैदान में है। इस बार चुनाव मैदान में कुल 179 उम्मीदवार निर्दलीय चुनाव लड़ रहे है जबकि 2018 के विधानसभा चुनाव में इन 28 विधानसभा सीटों पर कुल 150 निर्दलीय उम्मीदवार थे।

इस बार भाजपा, कांग्रेस और बसपा तीनों प्रमुख राजनीतिक दलों ने सभी 28 सीटों पर उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे है। इनके बाद सपा ऐसा राजनीतिक दल है जिसने चौदह सीटों पर उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। सपाक्स पार्टी ने भी इस बार 11 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे है। कुल 37 राजनीतिक दल इस बार चुनाव मैदान में है। इनमें चार दलों को छोड़कर कोई भी राजनीतिक दल आधे स्थानों पर भी उम्मीदवार खड़े नहीं कर पाया है।

इस बार विधानसभा चुनाव में ऐसे सत्रह राजनीतिक दल मैदान में है जिनके केवल एक-एक उम्मीदवार ही चुनाव मैदान में है। इनमें आदर्श न्याय रक्षक पार्टी, अखिल भारतीय आरक्षित समाज पार्टी, आॅल इंडिया फारवर्ड ब्लॉक, बहुजन महा पार्टी, भारतीय अमृत पार्टी, भारतीय सर्वसमाज पार्टी, भारतीय शक्ति चेतना पार्टी, छत्तीसगढ़ विकास गंगा राष्टÑीय पार्टी, दलित विकास पार्टी (भारत), जनता पार्टी, लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी, परिवर्तन समाज पार्टी, राष्टÑीय जन आवाज पार्टी आदि पार्टी शामिल हैं। राष्टÑीय कांतिकारी समाजवादी पार्टी,राष्टÑीय रक्षक मोर्चा, राष्टÑीय शोषित समाज पार्टी, समता विकास पार्टी के एक-एक उम्मीदवार इस बार चुनाव मैदान में है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button