मध्य प्रदेशराज्य

उपचुनाव लड़ रहे 23% कैंडिडेट करोड़पति, प्रत्याशियों की क्राइम कुंडली

भोपाल
मध्यप्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ रहे 355 उम्मीदवारों में से 80 याने 23 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति है। वहीं कांग्रेस के पचास फीसदी तो भाजपा के 43 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज है। उम्मीदवारों द्वारा विधानसभा चुनावों के लिए भरे गए शपथ पत्र के विश्लेषण में यह जानकारी सामने आई है। एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म्स और मध्यप्रदेश इलेक्शन वॉच ने विधानसभा उपचुनाव में मैदान में उतरे सभी 355 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण कर रिपोर्ट जारी की है।

चुनाव लड़ रहे 63 उम्मीदवारों पर गंभीर आराधिक मामले दर्ज हैं, इनमें से 39 पर गंभीर मामले दर्ज है। एक पर हत्या जबकि सात ने हत्या का प्रयास होने का मामला दर्ज बताया है।

कांग्रेस के 28 में से 14 पर वहीं भाजपा के 12 उम्मीदवारों पर, बसपा के 8 सपा के 4 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले है। कांग्रेस के 6 और भाजपा के 8 उम्मीदवारों पर केस दर्ज हैं।

उपचुनाव में इंदौर की सांवेर में कांग्रेस की सीट से चुनाव लड़ रहे प्रेमचंद गुड्डू सबसे अमीर उम्मीदवार है। उनके पास 86 करोड़ 96 लाख 77 हजार 571 रुपए की सम्पत्ति है। दूसरे स्थान पर ब्यावरा से भारतीय अमृत पार्टी से चुनाव लड़ रहे डॉक्टर सुशील कुमार प्रसाद है। उनके पास 15 करोड़ 17 लाख की सम्पत्ति है। तीसरे स्थान पर धार के बदनावर से भाजपा की सीट से चुनाव लड़ रहे राजवर्धन सिंह दत्तीगांव है उनके पास 13 करोड़ 35 लाख रुपए की सम्पत्ति है।

भिंड के मेहगांव से निर्दलीय उम्मीदवार सुनील कांकर ने हत्या और हत्या के प्रयास के प्रकरण दर्ज होने की जानकारी दी है। वहीं मुरैना के सुमावली से कांग्रेस के अजब सिंह दांगी, मुरैना से भाजपा के रघुराज सिंह कंसाना, मंदसौर के सुवासरा में कांग्रेस के राकेश पाटीदार, भिंड की मेहगांव से सपाक्स के दीपक सिंह कुशवाह, मेहगांव से ही निर्दलीय अच्छेन्द्र सिंह, और प्रदीप सिंह पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close