राष्ट्रीय

इन 5 राज्यों से भी अब मिलने लगी खुशखबरी, सबसे अधिक तबाह हुए  कोरोना से 

 नई दिल्ली 
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित पांच राज्यों में पिछले एक महीने से कोविड -19 मामलों की संख्या में गिरावट देखी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस बीमारी के दैनिक मामलों के चलन से सक्रिय मामलों में गिरावट के विभिन्न चरणों का पता चला है। मंत्रालय ने इन पांच राज्यों के मामलों के एक ग्राफ के साथ ट्वीट किया, "इसमें देश में सक्रिय मामलों में लगातार कमी आई है, केस लोड लगातार 3 दिनों के लिए 8L से नीचे है।"

सोमवार को, कोरोना वायरस बीमारी के 55,722 नए मामले सामने आए, जो पांच दिनों में सबसे कम थे, और 579 संबंधित मौतें भारत की कोरोना टैली को 7.5 मिलियन तक ले गईं। पिछले 24 घंटों में मौतों की संख्या भी महीनों में सबसे कम थी। कोविड -19 के 772,055 सक्रिय मामले थे और देश की मृत्यु का आंकड़ा 114,610 हो गया।

भारत को कोरोना से राहत की सांस मिलती दिख रही है। दरअसल देश में हर दिन आने वाले तााजा मामले कम होते जा रहे हैं। सोमवार के डेटा के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटों में 55,722 नए कोरोना मामलों और 579 मौतों के साथ कुल आंकड़ा 75 लाख को पार कर गया है। अभी कुल मामले 75,50,273 पर हैं जिनमें 7,72,055 सक्रिय मामले, 66,63,608  ठीक हो चुके और 1,14,610 मौतें शामिल हैं।

कोरोना वायरस को लेकर अब लगातार राहत की खबर मिल रही है। वैश्विक महामारी कोविड-19 से प्रभावित दुनियाभर के देशों में कोरोना वायरस से अमेरिका के बाद भारत दूसरा सर्वाधिक प्रभावित देश है मगर सुकून की बात है कि यह प्रति दस लाख की आबादी पर कोरोना संक्रमण की चपेट में आने और इससे जान गंवाने वालों के औसत मामलों में प्रमुख राष्ट्रों से काफी पीछे है। यानी भारत में मिलने वाले कोरोना के नए मामलों और मौतों की रफ्तार अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है। इतना ही नहीं, रिकवरी रेट के मामले में भारत दुनियाभर में सबसे आगे है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close