मनोरंजन

‘आश्रम’ में नजर आई अनुप्रिया ने धार्मिक गुरु से जुड़ी एक शॉकिंग घटना बताई

 

अनुप्रिया गोएनका जो कि 'पद्मावत', 'टाइगर जिंदा है' और 'वॉर' जैसी फिल्मों में काम कर चुकी हैं। वह 'सेक्रेड गेम्स' और एमएक्स प्लेयर की 'आश्रम' जैसी सीरीज में भी नजर आई हैं। उन्होंने अपनी जिंदगी से जुड़ी एक शॉकिंग घटना बताई है, जिसमें एक आध्यात्मिक गुरु ने उनका फायदा उठाने की कोशिश की थी।

ईटाइम्स को दिए एक वीडियो इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि साधु बाबाओं से उनका अच्छा और बुरा अनुभव रहा है। इस वक्त उनकी लाइफ में ऐस्ट्रॉलजर हैं जिनसे वह काउंसलिंग लेती हैं। उन्होंने बताया, जब चीजें मेरी समझ में नहीं आतीं तो मैं उनके पास जाती हूं। हालांकि उन्होंने ये भी बताया कि वह अपनी जिंदगी की कमान किसी को नहीं देतीं। उन्होंने बताया कि वह किसी पर भरोसा तो कर सकती हैं लेकिन मैं किसी को अपना जीवन कंट्रोल नहीं करने देती। उन्होंने 18 साल की उम्र में उनके साथ हुआ खराब अनुभव भी बताया।

पिता पड़ गए थे बाबाजी के चक्कर में
अनुप्रिया बताती हैं, मेरे पिता अध्यात्म की तरफ काफी झुकाव रखते थे। वह हमेशा बाबा लोगों की तलाश मे रहते थे और उन पर काफी आस्था थी। इस चक्कर में उनका ध्यान बंट गया और परिवार को नुकसान उठाना पड़ा। इस वजह से वह काम नहीं कर पाते थे और फैमिली बुरी स्थिति में पहुंच गई।

बाबा ने की फायदा उठाने की कोशिश
अनुप्रिया ने एक धार्मिक गुरु के साथ अपने कड़वे अनुभव बताए, मेरा परिवार उन पर बहुत भरोसा करता था। मैं भी उन पर यकीन करने लगी थी। वह सही लगते थे और उनकी बातें ठीक लगती थीं। वह प्रैक्टिकल बातें करते थे। लेकिन उन्होंने मेरा फायदा उठाने की कोशिश की। उस वक्त मैं 18 साल की थी। इससे मैं बहुत लंबे वक्त तक डरी रही थी। शुक्र है मैंने उनको ऐसा करने नहीं दिया।

अंतरआत्मा की आवाज सुन बचीं अनुप्रिया
वह बताती हैं, मैं उस सिचुएशन से बच निकली। मैंने अपनी अंतरआत्मा की आवाज सुनी, हालांकि उनसे कुछ देर तक झगड़ना पड़ा था। पिछली कुछ मुलाकातों से ही आभास होने लगा था कि कुछ गड़बड़ है। मैं खुद पर डाउट करने लगी क्योंकि उन पर भरोसा करती थी और लगता था कि ऐसा नहीं हो सकता।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button