राजनीति

आखिरी चरण से पहले PM मोदी के किए कई ट्वीट, विकास से लेकर ‘आत्मनिर्भर बिहार’ तक का वादा

पटना

बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन की स्थिति को मजबूत करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने 4 दौरे किेए और 12 चुनावी रैलियों के जरिए बिहार की जनता को संबोधित किया। बिहार में मोदी का प्रचार अभियान अब समाप्त हो चुका है, मगर की बिहार के लोगों के प्रति उनके लगाव में कोई कमी नहीं आई है। यही वजह है कि बुधवार शाम को पीएम मोदी ने एक के बाद एक ट्वीट कर बिहार की जनता को धन्यवाद दिया और कहा कि सासाराम में पहली रैली से लेकर सहरसा में आखिरी रैली तक बिहार के लोगों ने काफी स्नेह दिया। पीएम मोदी ने अपने पहले ट्वीट में लिखा, 'पिछले दिनों मुझे बिहार के अपने भाइयों-बहनों से मिलकर उनका आशीर्वाद लेने का अवसर मिला। सासाराम में पहली रैली से लेकर सहरसा में आखिरी रैली तक जनता ने हमेशा की तरह ढेर सारा प्यार दिया। एक जनसेवक के रूप में बिहार की भूमि का चरण स्पर्श मुझे जनसेवा के लिए और प्रतिबद्ध करता है।' इसके बाद पीएम ने कहा, 'बिहार ने हमेशा लोकतंत्र के मूल्यों को ही सर्वोच्च माना है। इसलिए बिहार के लोग सुशासन की राजनीति ही पसंद करते हैं। राजनीतिक चेतना से लेकर सामाजिक मंथन तक, तीज-त्योहार से लेकर खान-पान तक बिहार अद्भुत है। यही बिहार की प्राणवायु है। यही आत्मनिर्भर बिहार की नींव है।'

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के युवा और महिलाओं को एनडीए में ही उम्मीद दिखती हैं। पीएम ने लिखा, 'मुझे बिहार में NDA की सभी रैलियों में एक समानता दिखी- युवाशक्ति और नारीशक्ति की बढ़चढ़ कर भागीदारी। अगर NDA यहां लगातार जीत हासिल कर रहा है तो ये इनका ही आशीर्वाद है। हमें इस आशीर्वाद से ही लगातार काम करने की ऊर्जा मिलती है। बिहार के युवा और महिलाएं NDA में उम्मीद देखते हैं।' केंद्र सरकार की योजनाओं पर चर्चा करते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'जनधन से लेकर मुद्रा लोन योजना तक, स्वच्छ भारत मिशन से लेकर आयुष्मान भारत योजना तक, उज्ज्वला से लेकर जल जीवन मिशन तक बिहार ने विकास के हर कदम पर महत्वपूर्ण पड़ाव तय किए हैं। बिहारवासियों ने तय कर लिया है कि प्रगति के पथ पर बढ़ चले ये तेज कदम अब न रुकेंगे, न थमेंगे।' पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के युवाओं को सुविधा, सुरक्षा, रोजगार और स्वरोजगार के नए अवसर सिर्फ NDA ही दे सकता है। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर अभूतपूर्व निवेश बिहार में रोजगार के नए अवसर बना रहा है। मुद्रा योजना और स्टैंड अप इंडिया योजना के तहत बिहार को एक लाख करोड़ रुपए दिए जा रहे हैं।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि एनडीए ने किसानों के लिए जितना किया और कर रहा है, उतना किसी ने कभी नहीं किया। मेगा फूड पार्क, आधुनिक कोल्ड चेन, एग्रो-प्रोसेसिंग क्लस्टर्स बिहार को आधुनिक कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर देंगे। कृषि उत्पाद संघों की बढ़ती संख्या छोटे किसानों की ताकत बढ़ाएगी, उन्हें बड़े बाजारों से जोड़ेगी। पीएम मोदी ने कहा, 'बिहार के हर जिले में ऐसे उत्पाद हैं जिनकी अपनी पहचान है। खाने-पीने की चीजें, फल-सब्जियां, पेंटिंग-हैंडीक्राफ्ट जैसी कई चीजें बिहार की पहचान से जुड़ी हैं। हर बिहारी हमेशा से लोकल के लिए वोकल रहा है। NDA इस पहचान को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है।' नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार का गरीब आज आश्वस्त है कि उनके ही जैसा गरीबी में पैदा हुआ पिछड़े समाज का उनका सेवक आज दिल्ली में काम कर रहा है और यह सुनिश्चित कर रहा है कि एक भी गरीब भूखा न सोए। कोरोना के इस कठिन समय में उन्हें मुफ्त राशन और सहायता सुनिश्चित की जा रही है। पीएम ने भ्रष्टाचार को विकास का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए कहा, 'विकास का सबसे बड़ा दुश्मन भ्रष्टाचार है। यह गरीबों से उनका अधिकार छीनता है। बैंक खातों, आधार और मोबाइल को जोड़कर NDA सरकार ने गरीबों को उनका अधिकार दिया है और काली कमाई के अनेक रास्ते बंद कर दिए हैं। अब अधिकांश योजनाओं का पैसा गरीबों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर हो रहा है।' अपने आखिरी ट्वीट में प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर बिहार के संबंध में अपने लक्ष्यों का जिक्र किया। पीएम मोदी ने लिखा, 'आत्मनिर्भर बिहार में… हमारा लक्ष्य है – कानून का राज बनाए रखना। हमारा उद्देश्य है – गरीबों का कल्याण। हमारा मिशन है – युवाओं को अवसर, महिलाओं की सुरक्षा। हमारा मंत्र है – सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास। जय बिहार, जय भारत!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button