अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव : मतदान केद्रों के बाहर दिखीं लंबी-लंबी कतारें

वाशिंगटन
अमेरिका में पिछले कुछ दशकों में सबसे अधिक आरोप-प्रत्यारोप वाले राष्ट्रपति चुनावों में से एक के लिए मंगलवार को बड़ी संख्या में मतदाता मतदान करने के लिए निकले और कई मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की कतारें देखी गई। इस चुनाव में राष्ट्रपति और रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप के सामने डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन हैं। कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बीच करीब 10 करोड़ अमेरिकी पूर्व-मतदान में अपना वोट डाल चुके हैं और माना जा रहा है कि देश के एक सदी के इतिहास में इस बार सर्वाधिक मतदान हो सकता है। इस साल करीब 23.9 करोड़ लोग मताधिकार के योग्य हैं । डाक मतपत्रों की गिनती में कुछ राज्यों में कुछ दिन या सप्ताह लग सकते हैं और इससे तय है कि मंगलवार को मतदान संपन्न होने के कुछ ही घंटे बाद विजेता की घोषणा होने की संभावना नहीं है।

अमेरिका में करीब 40 लाख भारतीय मूल के लोग हैं जिनमें से 25 लाख मतदाता हैं। यहां 13 लाख से अधिक भारतीय-अमेरिकी टेक्सास, मिशिगन, फ्लोरिडा और पेनसिल्वेनिया जैसे अहम राज्यों के मतदाता हैं। मतदान का समय अलग-अलग राज्यों के लिए भिन्न है। शुरुआत में बड़ी संख्या में लोगों के मतदान के लिए निकलने की खबरें आयीं। पेनसिल्वेलिया में सैकड़ों लोगों को मतदान शुरू होने से पहले ही मतदान केंद्रों के बाहर कतारों में देखा गया। मंगलवार तड़के प्रचार से लौटे ट्रंप (74) ने अमेरिकी जनता से उन्हें वोट देने की अपील की है। उन्होंने चुनावी रैलियों में खुद के नृत्य के एक छोटे से वीडियो के साथ ट्वीट किया, ''मतदान करें, मतदान करें, मतदान करें।''

बाइडेन (77) ने भी जनता से मतदान करने की अपील करते हुए कहा, ''मतदान का दिन है। जाइए, वोट दीजिए अमेरिका।'' उन्होंने ट्वीट किया, ''2008 और 2012 में आपने इस देश का नेतृत्व करने के लिए बराक ओबामा का साथ देने में मुझ पर भरोसा जताया। आज मैं एक बार फिर आपसे विश्वास जताने के लिए कह रहा हूं। मुझ पर और कमला (हैरिस) पर भरोसा जताइए। हम वादा करते हैं कि आपको निराश नहीं करेंगे।'' उपराष्ट्रपति पद की डेमोक्रेट उम्मीदवार कमला हैरिस ने मतदाताओं से कहा कि ''अगर आपने मतदान कर दिया है तो शुक्रिया। लेकिन हमें अब भी आपकी मदद की जरूरत है…20 मिनट निकालिए और मतदाताओं को मतदान केंद्रों को खोजने में मदद कीजिए।'' बाइडेन और हैरिस विलमिंगटन, डेलावर से राष्ट्र को संबोधित करेंगे। जबकि, ट्रंप व्हाइट हाउस से चुनाव नतीजों को देखेंगे। उन्होंने चुनिंदा अतिथियों को व्हाइट हाउस आमंत्रित किया है। चुनाव परिणाम के मद्देनजर व्हाइट हाउस और अन्य महत्वपूर्ण स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है । 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button